Connect with us

Uttar Pradesh

Ghaziabad News: पलभर में खत्म हुई पांच जिंदगियां, चिलाते रहे पांचों लोग पर नहीं बचा सके

Published

on

दिल्ली से सटे Ghaziabad के लोनी बॉर्डर थाना क्षेत्र के एक गांव में तीन मंजिला मकान में भयानक आग लगने से दो बच्चों समेत 5 लोगों की मौत हो गई| बताया जा रहा है कि इस घर में फोम बनाया जाता था| अग्निशमन विभाग के मुताबिक घटना बुधवार रात 8 बजे के बाद की है| फायर ब्रिगेड की कई गाड़ियां मौके पर पहुंचीं और आग पर काबू पाने की कोशिश की, लेकिन इससे पहले ही सभी आग में बुरी तरह झुलस गए| बताया गया है कि इस आग में दो बच्चे, दो महिलाएं और एक लड़की फंसी हुई है|

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, Ghaziabad के लोनी बॉर्डर इलाके के बेहटा हाजीपुर गांव में इश्तियाक अली का तीन मंजिला मकान है| इस घर में वह और उनका बेटा अपने परिवार के साथ रहते हैं। बेटा सारिक अपनी पत्नी, 7 महीने के बच्चे और बहन के साथ घर पर रहता है। उसकी दूसरी बहन अपने दो बच्चों के साथ उसके घर आई हुई थी। फोम का निर्माण घर में ही किया जाता है। बताया जा रहा है कि बुधवार रात करीब 8 बजे शॉर्ट सर्किट से घर में भीषण आग लग गई |

सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियां मौके पर पहुंचीं और आग पर काबू पाने की कोशिश की| आग ने तीनों मंजिलों को अपनी चपेट में ले लिया। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने दो मंजिला मकान में लगी आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया. लेकिन एक मंजिला मकान में लगी आग पर काबू पाने में अग्निशमन विभाग को काफी मशक्कत करनी पड़ी. संकरी गलियों में घर होने के कारण फायर ब्रिगेड की गाड़ियां घर तक नहीं पहुंच सकीं।

देर रात तक फायर ब्रिगेड की टीम ने किसी तरह आग पर काबू पाया और जब घर में घुसी तो वहां पांच शव पड़े थे. घर में मौजूद अन्य लोगों की तलाश जारी है| घटना में मरने वालों के नाम सामने आ गए हैं| इनमें फरहीन (28), शीश (7 माह), नजरा (30), सैफुर्रहमान (35), इफरा (8) की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि इस हादसे में लोगों ने छत के रास्ते भागने की कोशिश की. पड़ोसियों ने भी उन्हें बचाने की कोशिश की. लेकिन छत की ओर जाने वाला दरवाजा बंद था। जिससे सभी लोग आग की चपेट में आ गये और उनकी मौत हो गयी |

author avatar
Editor Two
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uttar Pradesh

शहीद Anshuman के पिता बोले- बहू की शादी छोटे बेटे से करने को तैयार; जो भी विरासत होगी उन्हें सौंप देंगे

Published

on

शहीद कैप्टन Anshuman सिंह के पिता रवि प्रताप सिंह ने कहा है कि बहू स्मृति को दूसरी जिंदगी शुरू करनी चाहिए। अखंड वैधव्य संभव नहीं है। जब बहू के पिता ने यह बात कही थी कि वह तो अभी महज 26 साल की है, तब मैंने कहा था कि स्मृति बहू भी है और बेटी भी।

अगर वह शादी करना चाहती है तो उसे बेटी की तरह विदा करेंगे। रवि प्रताप ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि यदि वे इसी घर में अंशुमन की यादों के साथ रहना चाहती हैं तो मैं छोटे बेटे की शादी उनसे कर सकता हूं। मेरा छोटा बेटा स्मृति से 2 ही साल छोटा है। यदि वे शादी न करके भी इसी घर में रहना चाहती हैं तो हम अपने छोटे बेटे से होने वाले पहले पोते को उनके आंचल में सौंपेंगे। उसके पिता के कॉलम में नाम अंशुमन लिखा जाएगा।

जो भी विरासत होगी, हम उन्हें सौंपेंगे। हालांकि रवि प्रताप ने दो दिन पहले कहा था कि बेटे के जाने के बाद उनके पास कुछ नहीं बचा। राष्ट्रपति भवन गया तो पता चला कि 5 फरवरी को बेटे का पता बदलवा दिया गया। मैंने इस पर आपत्ति भी जताई थी। मुझसे पहचान छीन ली गई। इस बीच सूत्रों ने बताया कि यूपी सरकार ने परिवार को 50 लाख रु. दिए थे।

इसमें से 15 लाख रु. माता-पिता और 35 लाख रु. बहू स्मृति को दिए गए थे। सेना के सूत्रों ने बताया, आर्मी ग्रुप इंश्योरेंस फंड के तहत 1 करोड़ रु. दिए गए। इसमें से 50 लाख रु. अंशुमन के माता-पिता और 50 लाख रु. पत्नी स्मृति को मिले। स्मृति को सामान्य पेंशन मिलनी शुरू हो गई है। शहादत की कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के बाद लिबरलाइज्ड पेंशन मिलेगी। एक अन्य इंटरव्यू में रवि ने कहा, सरकार से कोई हमें कोई शिकायत नहीं है। हमें पुरस्कार छूने तक नहीं दिया, इसका कष्ट रहेगा। अगर वो चाहें तो इसकी रेप्लिका दोनों को दे सकते हैं।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Uttar Pradesh

UP: Marriage के एक साल बाद गायब हुई महिला……… कुछ साल बाद बना अपनी ही पत्नी का बेटा

Published

on

Marriage के बाद पति-पत्नी के बीच मारपीट और प्रेमी के साथ भागने के कई मामले सामने आए हैं, लेकिन यूपी के बदायूं जिले से जो मामला सामने आया है उसे सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे। दरअसल, एक महिला की शादी सात साल पहले हुई थी| शादी के एक साल तक सब कुछ ठीक रहा, लेकिन इसी दौरान महिला अचानक गायब हो गई। महिला के पति ने अपनी पत्नी की काफी तलाश की लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला |

कुछ दिन बाद महिला का ससुर भी अचानक गायब हो गया| महिला के पति को नहीं पता था कि ससुर और बहू ने आपस में शादी कर ली है| सात साल बाद जब इसका खुलासा हुआ तो युवक ने अपना सिर पकड़ लिया। युवक अपनी ही पत्नी का बेटा बन गया है| इसके बाद युवक ने पुलिस को सूचना दी| पुलिस दोनों को पकड़कर थाने ले आई।

पूछताछ में महिला ने बताया कि जब उसकी शादी हुई थी तो उसका पति नाबालिग था| वह अक्सर अपने पति से परेशान रहती थी|इसके चलते वह अपने ससुर के साथ भाग गई। इसके बाद दोनों ने शादी कर ली और चंदौसी में रहने लगे। महिला ने बताया कि अब उसका एक बेटा भी है| महिला का कहना है कि उसे सात साल पहले हुई शादी पर यकीन नहीं है और वह अपने ससुर से शादी करके बेहद खुश है| दोनों अपनी मर्जी से शादी कर रहे हैं| पुलिस ने दोनों की बात सुनने के बाद उन्हें जाने दिया।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, पूरा मामला बदायूं जिले के दबतोरी चौकी इलाके का है| यहां रहने वाले एक युवक ने पुलिस को बताया कि उसकी शादी 2016 में वजीरगंज की एक लड़की से हुई थी। एक साल बाद उसकी पत्नी अचानक गायब हो गई। उसने कुछ दिनों तक अपनी पत्नी की तलाश की, इस दौरान उसके पिता भी अचानक गायब हो गए। कई दिनों तक दोनों की तलाश की लेकिन कुछ पता नहीं चला। कुछ दिन बाद जब उसे जानकारी मिली कि उसके पिता और पत्नी चंदौसी में हैं तो उसने बिसौली पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने दोनों को ढूंढ लिया| ससुर ने अपनी बहू से शादी कर ली थी|

पुलिस दोनों को पकड़कर थाने ले गई। जब महिला से पूछा गया कि उसने ऐसा क्यों किया तो उसने हैरान करने वाला जवाब दिया| महिला ने बताया कि जब उसकी शादी हुई तो उसका पति नाबालिग था, वह न तो पढ़ा-लिखा था और न ही कोई काम करता था| इसी बीच उसका दिल अपने ससुर पर आ गया और वह उसके साथ भाग गई। दोनों ने कोर्ट मैरिज कर ली और साथ रहने लगे। दोनों का एक दो साल का बेटा भी है। दोनों अपनी जिंदगी में खुश हैं| महिला ने बताया कि अगर उसके ससुर से शादी की खबर इलाके में फैल जाती तो बहुत बदनामी हो जाती, इसी डर से वह चंदौसी में रहने लगी|

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Uttar Pradesh

Baba भोले उर्फ ​​सूरजपाल साथ रखता था सुंदर महिलाएं, फंसाता था अपने मोहनी जाल में

Published

on

उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के सिकंदराराऊ थाना क्षेत्र में सत्संग के दौरान हुए हादसे के बाद Baba भोले उर्फ ​​सूरजपाल को लेकर लगातार नए खुलासे हो रहे हैं। इसी बीच उनके पास के गांव की एक महिला ने बड़ा दावा किया है| महिलाओं ने बताया कि सूरजपाल उर्फ ​​बाबा के पास मोहिनी मंत्र है, जिसके जाल में महिलाएं फंस जाती हैं। सूरजपाल बाबा के नजदीकी गांव चक के लोगों ने एक ऐसा राज खोला है, जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे|

महिलाओं के बीच डांस करते थे Baba
जानकारी के मुताबिक, बाबा के सत्संग में महिलाओं की भागीदारी हर जगह सबसे ज्यादा होती है| लेकिन ऐसा क्यों होता है इसकी चौंकाने वाली सच्चाई हमें पता चली है कि बाबा के दरबार में महिलाएं रूपक बनकर आती थीं और बाबा उनके बीच नृत्य करते थे। पड़ोसी गांव की महिलाओं ने बताया कि बाबा के पास मोहिनी मंत्र है और जैसे ही महिलाएं उसकी परिक्रमा करती हैं, वे उसके वश में हो जाती हैं।

Baba की मंडली में थी खूबसूरत महिलाओं
महिलाएं ने दावा किया कि महिलाएं आकर रूपक बनती थीं। बाबा के आसपास रहती है| बाबा के पड़ोसी गांव के रहने वाले महिंदरपाल ने भी सवाल उठाए और बाबा सूरजपाल पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने कई खूबसूरत महिलाओं को उनके पास आते देखा है| ऐसी रासलीला कहां से आ गई? जैसे मथुरा में होता था| यहाँ गाड़ियाँ भर-भरकर औरतें आती थीं। एक दूसरे से अधिक सुन्दर था। किसी ने कोई शिकायत नहीं दी। 15 अगस्त को जन्म अष्टमी पर उन्होंने कन्हैया की तरह झूला झूला था|

उन्होंने आरोप लगाया कि उनके सत्संग में महिलाएं सबसे आगे रहती हैं. इस गांव की महिलाओं ने बाबा के बारे में कई खुलासे किये. उन्होंने कहा कि बाहर से लड़कियां आती थीं और गोपियां बनकर बाबा के इर्द-गिर्द नाचती थीं. यही हम देखते थे. लड़कियों की बग्घी हमेशा बाबा के साथ चलती थी। वे साधारण कपड़े पहनकर उनके साथ चल रहे थे। एक बार हमने यह भी देखा कि ट्रेनों में लड़कियों में से केवल 20 प्रतिशत पुरुष थे। बाकी महिलाएं हैं जो सिर्फ बाबा के बारे में बात करती हैं| ‘

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Trending