Connect with us

Haryana

Haryana MC मेयरों की बढ़ी पावर, अब करा सकेंगे 10 करोड़ के काम

Published

on

Manohar Lal Khattar

Haryana में नगर निगमों के महापौरों के पास अब जूनियर इंजीनियरों सहित ‘समूह सी और डी’ के कर्मचारियों को निलंबित करने का अधिकार होगा। समूह सी श्रेणी के कर्मचारियों में लिपिक शामिल हैं, जबकि सहायक और इलेक्ट्रीशियन समूह ‘डी’ पदों के अंतर्गत आते हैं। आधिकारिक बयान में कहा गया हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने नगर निगमों के महापौरों को जूनियर इंजीनियरों सहित समूह सी और डी के कर्मचारियों को निलंबित करने का अधिकार देकर स्थानीय नगरीय शासन के सत्ता विकेंद्रीकरण की दिशा में जारी प्रक्रिया में एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया।

मेयर करा सकेंगे 10 करोड़ तक के काम
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने महापौरों के लिए प्रशासनिक मंजूरी सीमा 2.50 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 10 करोड़ रुपये करने की भी घोषणा की। बयान में कहा गया कि सीएम खट्टर ने यहां राज्य के नगर निगमों के महापौरों और वरिष्ठ उपमहापौरों की बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कमल गुप्ता भी मौजूद थे। सीएम खट्टर ने कहा महापौर एक विशाल निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. पिछले नौ वर्षों में हमारी सरकार ने विकेंद्रीकरण के माध्यम से पंचायती राज संस्थानों को महत्वपूर्ण रूप से सशक्त बनाया है।

लंबित परियोजनाओं को पूरा कराने के निर्देश
प्रदेश के नगर निगम का कार्यकाल अगले साल जनवरी में खत्म होना है। इसके अलावा तीन नगर निगम का कार्यकाल पहले ही खत्म हो चुका है, जिसको लेकर सीएम ने सभी मेयरों और सीनियर डिप्टी मेयरों को निर्देश दिए है कि वो जनवरी तक अपने सभी कार्य पूरे करें। जिन कामों को लिए जिनता बजट चाहिए उन्हें बताया जाए। 

7 नगर निगमों में चलेंगी इलेक्ट्रिकल बसें
वहीं परिवहन विभाग के प्रधान सचिव नवदीप सिंह विर्क का कहना है कि रेवाड़ी समेत 7 नगर निगमों में इलेक्ट्रिकल एसी सिटी बसें भी चलाई जाएगी। इसके लिए तीन एकड़ में नए बस स्टैंड का निर्माण भी होगा. इसके साथ ही उस बस स्टैंड में चार्जिंग स्टेशन भी लगाया जाएगा।

Haryana

मुख्यमंत्री Nayab Singh Saini फतेहाबाद पहुंचे कर विकास परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया

Published

on

हरियाणा के नेता Nayab Singh Saini ने फतेहाबाद का दौरा किया और कई नई परियोजनाओं की शुरुआत की, जिनमें काफी पैसे खर्च हुए हैं। इस दौरान फतेहाबाद के सांसद भी उनके साथ थे। नेता ने कहा कि लोगों का समर्थन बहुत जरूरी है और सरकार लंबे समय से विकास पर काम कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि विपक्षी दल पिछले 10 सालों में सरकार के कामों को लेकर सवाल पूछ रहे हैं।

सीएम ने कहा कि कांग्रेस आज हमारी सरकार से सवाल पूछ रही है, लेकिन पहले उन्हें यह बताना चाहिए कि जब वे सत्ता में थे, तब उन्होंने क्या किया। युवा और किसान अब हमारी सरकार को जवाबदेह ठहरा रहे हैं। सीएम ने कांग्रेस पर निजी लाभ के लिए काम करने का आरोप लगाया, जबकि कहा कि भाजपा लक्ष्य हासिल करने पर केंद्रित है। भाजपा के सत्ता में आने से पहले उन्होंने व्यवस्था को सुधारने और भ्रष्टाचार व पक्षपात को खत्म करने का काम किया।

कांग्रेस के समय में किसानों का फायदा उठाया गया और बड़ी कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए उनकी जमीन को कम दामों में बेच दिया गया। सीएम सैनी ने कहा कि प्रदेश का बच्चा-बच्चा जानता है कि कांग्रेस कितने समय से सत्ता में है। युवाओं को बिना कुछ खर्च किए नौकरी मिल रही है। किसानों को फसल बीमा का पैसा सीधे उनके बैंक खातों में मिल रहा है।

बुजुर्गों को अब घर बैठे पेंशन मिल रही है। भाजपा बेहतर सड़कें और हाईवे बनाने पर काम कर रही है, जिसमें ओवरपास और अंडरपास शामिल हैं। कांग्रेस के सत्ता में रहने के दौरान फतेहाबाद में कोई प्रगति नहीं हुई। 2014 से पहले फतेहाबाद में न तो सड़कें थीं, न बिजली और न ही पानी। राज्य में लगातार विकास हो रहा है।

फतेहाबाद में नेता ने कहा कि क्षेत्र को बेहतर बनाने पर काफी पैसा खर्च किया गया है। उन्हें खुशी है कि फतेहाबाद में तेजी से सुधार हो रहा है। वे जल्द ही एक मेडिकल कॉलेज खोलेंगे और नए अस्पताल बनाएंगे। उन्होंने एक फुटबॉल अकादमी भी खोली है और फतेहाबाद में अलग-अलग जगहों पर नए बस स्टैंड, पार्किंग स्थल, कॉलेज और आईटीआई बनाने पर काम कर रहे हैं।

सीएम ने कहा कि सरकार अब अग्निवीरों को 10% आरक्षण देगी, हैप्पी योजना के तहत 1000 किलोमीटर तक मुफ्त यात्रा कराएगी और कन्यादान योजना के तहत शादियों के लिए 3 दिन पहले पैसे पहुंचाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि “हरियाणा एक हरियाणवी एक” के नारे के साथ विकास हो रहा है और सरकार ने 24 घंटे बिजली सुनिश्चित करने का काम किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि फतेहाबाद में हालात बेहतर बनाने के लिए वे 10 करोड़ देंगे। बड़ोपल गांव में बीमार पशुओं के लिए जगह बनाएंगे। वार्ड 13 में नया बिजली ट्रांसफार्मर और बूस्टिंग स्टेशन लगाएंगे। फतेहाबाद मिनी बाईपास को दुरुस्त करेंगे। मेरी भी अपनी योजनाएं हैं। कांग्रेस को भी अपनी योजनाएं सभी को बतानी चाहिए। भूना फतेहाबाद का छोटा हिस्सा बनेगा और भट्टू विशेष समिति बनेगा। सुभाष बराला ने मंच से बात करते हुए कहा कि 7300 करोड़ रुपये देहात को बेहतर बनाने में खर्च किए जाएंगे।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Haryana

लापरवाही के कारण पांच वर्षीय बच्चे की Swimming Pool में डूबने से हुई मौत

Published

on

हरियाणा में एक बहुत दुखद घटना घटी। एक छोटा बच्चा Swimming Pool में इसलिए मर गया क्योंकि उसे कोई नहीं देख रहा था। बच्चा सिर्फ़ पाँच साल का था और किसी ने नहीं देखा कि वह काफ़ी समय से मुसीबत में था।

कुछ बच्चों ने पूल में किसी को डूबते हुए देखा और लाइफ़गार्ड को बताया। लाइफ़गार्ड ने उस व्यक्ति को पानी से बाहर निकाला और अस्पताल ले गया, लेकिन डॉक्टर उसे बचा नहीं पाए। पुलिस जाँच करने आई कि क्या हुआ था। इलाके में रहने वाले लोगों ने कहा कि लाइफ़गार्ड और सुरक्षा गार्ड अपना काम ठीक से नहीं कर रहे थे और अगर वे ध्यान देते तो शायद उस व्यक्ति की जान बच जाती।

पार्क सरीन सोसाइटी RWA के अध्यक्ष संदीप शर्मा ने बताया कि मिवंश सिंगला नाम का एक लड़का अपनी दादी के साथ सोसाइटी के स्विमिंग पूल में खेल रहा था। मिवंश पाँच साल का है और सोसाइटी के जे टावर में रहता है। वह सनसिटी स्कूल जाता है।

जब रमा सिंगला मिवंश के लिए कुछ सामान लेने अपने अपार्टमेंट गई तो उसने उसे पूल में छोड़ दिया और लाइफ़गार्ड और सुरक्षा गार्ड उस पर नज़र रखे हुए थे। मिवंश करीब 4 फीट गहरे पानी में चला गया और दुर्भाग्य से डूब गया। लाइफगार्ड को तुरंत पता नहीं चला, लेकिन जब कुछ बच्चों ने मिवंश का शव तैरता देखा, तो उन्होंने लाइफगार्ड को बताया। बिल्डिंग में रहने वाले लोगों का कहना है कि ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि मेंटेनेंस एजेंसी का गार्ड ध्यान नहीं दे रहा था।

सूचना मिलते ही पुलिस तुरंत पहुंची और शव को अपने साथ ले गई। सेक्टर-10 थाने के इंस्पेक्टर संदीप कुमार ने बताया कि वे परिवार की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर रहे हैं। उन्होंने इलाके से सीसीटीवी फुटेज भी ली है। जांच के बाद वे जिम्मेदार व्यक्ति को गिरफ्तार करेंगे। इलाके में रहने वाले लोग चाहते हैं कि जो कुछ हुआ उसके लिए बिल्डर, मेंटेनेंस एजेंसी, लाइफगार्ड और सुरक्षाकर्मी जिम्मेदार हों।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Haryana

Haryana: ससुराल वालो से तंग आकर विवाहिता ने की आत्म हत्या, भाई ने Police में करवाई शिकायत दर्ज़

Published

on

धौलपलिया नामक गांव में एक विवाहित महिला की संदिग्ध तरीके से मौत हो गई। Police ने शव को अस्पताल पहुंचाया, ताकि पता चल सके कि आखिर हुआ क्या है। उसके भाई का मानना ​​है कि उसे उसके पति और परिवार के अन्य सदस्यों ने मारा है, न कि उसने खुद आत्महत्या की है। पुलिस भाई के बयान के आधार पर दहेज उत्पीड़न और हत्या का मामला मानकर जांच कर रही है।

महेश ने पुलिस को बताया कि उसकी तीन बहनें हैं। उसकी दो बहनों सुलोचना और कविता की शादी 5 मार्च 2018 को धौलपलिया में मुकेश और दिनेश से हुई थी। सुलोचना की साढ़े 4 साल की बेटी है। महेश ने बताया कि शादी के बाद मुकेश और दिनेश पैसे मांगने लगे और न मिलने पर उसकी बहनों से मारपीट करते थे। सुलोचना करीब 2 साल से अलग रह रही है। महेश हाल ही में ऐलनाबाद गया था, जहां उसे पता चला कि उसकी बहनों को एक-दूसरे से बात करने की इजाजत नहीं है और उनके पति उनके साथ मारपीट कर रहे हैं।

महेश के चाचा को फोन आया कि शीला की मौत हो गई है। महेश का मानना ​​है कि उसकी बहन की हत्या मुकेश, दिनेश, शीला और महेंद्र ने पैसों के लिए की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Trending