Connect with us

Haryana

युवक पर हो रही थी अंधाधुंध फायरिंग, महिला ने बीच में आकर बदमशों को झाड़ू से भगाया

Published

on

हरियाणा के भिवानी से खबर सामने आई है | जहाँ चार युवकों दुवारा किसी दूसरे युवक पर अंधाधुंध गोली मार दी गई. जिसमे युवक को तीन गोलियां जा लगी और उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है.
बता दे की जब दो बदमाश युवक पर गोली चला रहे थे तो घायल युवक अपनी जान बचाने के लिए घर के अंदर घुस गया और इसी बीच एक महिला बड़ी ही बहादुरी से हाथ में झाड़ू पकड़कर बीच में आ गई और हमलावरों को वहाँ से भागने लग गयी |

घ्याल युवक का नाम हरिया है और बताया जा रहा है कि पुरानी रंजिश के चलते अंधाधुंध गोलियां चलाई गईं, जिससे हरिया को तीन गोलियां जा लगीं. फिलहाल हरिया की हालत गंभीर है और उसे रोहतक पीजीआई रेफर किया गया है.
बता दे यह सारी घटना सुबह करीब 8 बजे डाबर कॉलोनी में हुई. और ये सारी घटना वहाँ लगे सीसीटीव में कैद हो गई और अब ये वीडियो सोशल मीडिया पे काफी ज्यादा वायरल हो रहा है |

Haryana

Haryana में बंदरों का बड़ा आंतक, 19 साल की लड़की को गिराया छत से, हुई मौत

Published

on

Haryana के करनाल में उस वक्त सन सनी फैल गई जब एक 14 साल की लकड़ी छत से नीचे गिर गई और उसकी मौत हो गई | यह हादसा तब हुआ जब कनिका पर बंदरों के एक समूह ने हमला कर दिया। दरअसल बुधवार शाम कनिका अपने घर की छत पर टहलने गई थीं, तभी अचानक बंदरों का एक झुंड उउसकी तरफ आ गया|

अपने ऊपर बंदरों के हमले से घबराकर कनिका अपना संतुलन खो बैठी और छत से नीचे गिर गई। परिजन तुरंत कनिका को करनाल के कल्पना चावला मेडिकल अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम की प्रक्रिया शुरू कर दी है|

वही डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि कनिका के सिर में गंभीर चोट आई। अगर ब्लीडिंग बाहर हो जाती तो शायद कनिका बच जाती, लेकिन चोट के कारण सिर के अंदर ही ब्लीडिंग शुरू हुई है। जो उसकी मौत का कारण बनी।

कनिका के भाई दीपक ने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब इस इलाके में बंदरों के हमले की खबर आई हो। बंदरों का आतंक बढ़ता जा रहा है। वह पहले भी कई लोगों पर हमला कर चुके हैं।

वहीं दीपक ने बताया कि उसके पिता प्राइवेट सेक्टर में काम करते हैं। हम परिवार में चार सदस्य हैं | कनिका उस की इकलौती बहन थी, जो पास के एक निजी स्कूल में 9वीं कक्षा की छात्रा थी| इस घटना के बाद करनाल के जाटो गेट इलाके में शोक का माहौल है| कनिका की असामयिक मौत से पूरा परिवार और समाज सदमे में है|

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Haryana

Hisar: दहेज के लिए ससुराल वालों ने महिला को दिया जहर, हुई मौत

Published

on

Hisar के गांव नियाणा में विवाहिता ममता (22) को दहेज के लिए प्रताड़ित करके जहर देकर मारने के आरोप में पति सहित अन्य ससुरालजनों के खिलाफ सदर थाना में केस दर्ज हुआ है।

मृतका के चाचा जींद के रूपगढ़ वासी रमेश के बयान पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने शव का नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया है। इस दौरान शव के अंतिम संस्कार करने को लेकर मायका व ससुराल पक्ष आमने-सामने हो गए। इनके बीच काफी बहस भी हुई, जिसके बाद पोस्टमार्टम करवाकर अंतिम संस्कार के लिए शव को मायका पक्ष रूपगढ़ लेकर चला गया।
जींद के रूपगढ़ वासी रमेश ने बताया कि भतीजी ममता की शादी 7 मार्च 2019 में नियाणा वासी धर्मबीर के साथ हुई थी। इनके 2 बच्चे हैं लेकिन शादी के बाद से दहेज की मांग को लेकर ससुरालजनों द्वारा ममता को शारीरिक व मानसिक रूप से परेशान किया जाता रहा था। इसके चलते काफी बार पंचायतें हुईं जिनमें ससुरालजन दोबारा परेशान न करने की कहकर वापिस अपने घर लेकर चले जाते थे। कुछ समय बाद फिर से कभी पैसे तो कभी वाहन की डिमांड पूरी न होने पर ममता संग मारपीट करके घर से निकाल देते थे।

आरोप है कि प्रताड़ना देने में पति धर्मबीर के साथ सास बाला, जेठ बिंद्र, जेठानी अनीता व खेड़ी जालब वासी ननद अनीता व नंदोई बलिंद्र भी शामिल हैं। 2 दिन पहले भी ममता से मारपीट की थी। 6 जून को धर्मबीर की कॉल आई थी। उसने धमकाया कि या तो अपनी लड़की को ले जाओ, नहीं तो इसके साथ कुछ न कुछ कर देंगे। उसको कहा कि हम सुबह आएंगे। 8 जून को हमारे पास जेठ बिंद्र की कॉल आई थी।

उसने बताया कि ममता ने जहर पी लिया है, जल्दी जिंदल अस्पताल पहुंच जाओ। जब अस्पताल में पहुंचे तो वह वेंटिलेटर सपोर्ट पर थी। ममता के गर्दन व पैरों पर चोटों के निशान हैं। इसके अलावा कान भी चोटिल है। हालत चिंताजनक होने के चलते उसने दम तोड़ दिया। आरोप है कि उक्त सभी ने मिलकर दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर ममता को पीटकर जहर पिलाकर मारा है।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Haryana

Yamuna Nagar :पेट में दर्द होने पर मां 14 वर्ष की बेटी को ले गई थी अस्पताल, बच्ची को जन्म दिया

Published

on

Yamuna Nagar की एक कॉलोनी से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है | जहां नौवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा ने सिविल अस्पताल में बच्ची को जन्म दिया है। आरोप है कि पुराना हमीदा निवासी मुद्रीश ने छात्रा से दोस्ती कर उसके साथ दुष्कर्म किया। रविवार को जब छात्रा के पेट में दर्द हुआ तो उसकी मां उसे सिविल अस्पताल लेकर पहुंची। जहां उसने बच्ची को जन्म दिया।

पुलिस ने आरोपी मुद्रीश पर केस दर्ज कर लिया है। पीड़िता की मां ने पुलिस को बताया कि 2020 में उसके पिता की हार्ट अटैक से मौत हो गई थी। वह घरेलू कार्य कर बच्चों का पालन पोषण कर रही है। उसकी 14 वर्षीय बेटी एक स्कूल में 9वीं कक्षा में पढ़ती है। रविवार को बेटी के पेट में दर्द हुआ।

उसे लगा कि उसके पेट में रसोली है। वह उसे लेकर सिविल अस्पताल में आ गई। जहां अल्ट्रासाउंड करने पर डॉक्टरों ने बताया कि उसकी बेटी गर्भवती है व आज ही उसका प्रसव होना है। बेटी ने बच्ची को जन्म दिया। जब मां ने बेटी से इस बारे पूछा तो उसने बताया कि पुराना हमीदा निवासी मुद्रीश ने उससे दोस्ती की थी।

मां के काम पर जाने के बाद आरोपी घर पर आता था। उससे संबंध बनाता था, जिससे वह गर्भवती हुई है। मां ने आरोप लगाया कि मुद्रीश ने नाबालिग को बहला फुसला कर उससे जबरदस्ती संबंध बनाए। मां की शिकायत पर पुलिस ने मामले की जांच के बाद आरोपी मुद्रीश पर पॉक्सो एक्ट में तहत केस दर्ज किया है। दुष्कर्म पीड़िता डॉक्टरों की निगरानी में है। मामले में जांच जारी है।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Trending