Connect with us

Punjab

Punjab: बढ़ रही ठंड व कोहरे को ध्यान में रखते हुए सेवा केंद्रों के समय में हुआ बदलाव, जानें New Timing

Published

on

पंजाब डेस्क : बढ़ रही ठंड व  कोहरे को ध्यान में रखते हुए जिला तरनतारन डिप्टी कमिश्नर संदीप कुमार ने अहम फैसला लिया है। मिली खबर के अनुसार डीसी ने सेवा केंद्रों के समय में बदलाव किया है। जानकारी देते हुए डीसी ने बताया कि जिला तरनतारन के सेवा केंद्रों का का नया समय 10 जनवरी 2024 तक सुबह 9.30 बजे से शाम 4.30 बजे तक कर दिया गया है। 

उन्होंने डायरेक्टर प्रशासकीय सुधार द्वारा जारी पत्र में अनुसार ठंडे के मौसम व कोहरे को कारण जिलों को अपने स्तर पर सेवा केंद्रों का समय बदलने के लिए कहा है। बदला गया समय अगले आदेशों तक लागू रहेंगे। 

author avatar
Editor One
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Punjab

Amritpal Singh को बड़ा झटका, एक साल के लिए बढ़ाया एन.एस.ए.

Published

on

पंजाब से 2024 का लोकसभा चुनाव सबसे बड़े अंतर से जीतने वाले सांसद Amritpal Singh पर लगाए गए राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) को एक साल के लिए बढ़ा दिया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक Amritpal Singh के करीबियों पर लगाए गए एनएसए की अवधि भी बढ़ा दी गई है, खबर है कि पप्पलप्रीत सिंह, प्रधान मंत्री बाजेक, सरबजीत कलसी का एनएसए एक और साल के लिए बढ़ा दिया गया है| इस बात की पुष्टि उनके वकील ने की है|

वोटों की गिनती से एक दिन पहले 3 जून को सरकार ने पत्र जारी कर अमृतपाल समेत 9 कैदियों की एनएसए एक साल के लिए बढ़ा दी|

गौरतलब है कि खडूर साहिब लोकसभा सीट को सबसे हॉट सीट माना जा रहा था क्योंकि यह स्पष्ट नहीं था कि अमृतपाल सिंह, जो पिछले साल अप्रैल से राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत डिब्रूगढ़ जेल में बंद हैं और जिन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया है। उम्मीदवार को चुनाव लड़ने की इजाजत होगी या नहीं।


अमृतपाल सिंह पर एन.एस.ए. मार्च 2023 में स्थापित किया गया था।यहां यह विशेष रूप से उल्लेख किया जाना चाहिए कि अमृतपाल सिंह ने लोकसभा चुनाव के दौरान खडूर साहिब सीट से एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा था, जिसमें उन्होंने भारी मतों के अंतर से जीत हासिल की थी। अमृतपाल सिंह की सबसे बड़ी जीत पूरे पंजाब में थी।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Punjab

लुधियाना में प्रेमी की हरकतों से तंग तलाकशुदा महिला ने किया Suicide

Published

on

अपने प्रेमी की दूसरी युवती के साथ दोस्ती होने का पता चला तो उसने Suicide कर ली। Suicide करने से पहले महिला ने Suicide नोट लिखा, जिसमें साफ तौर पर Suicide के लिए जीवन साथी को जिम्मेदार ठहराया है। फिलहाल थाना सलेम टाबरी की पुलिस ने मृतका मनदीप कौर के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा है। सुसाइड नोट को भी अपने कब्जे में लिया गया है। वहीं, मृतका के परिजनों के बयानों के आधार पर बनती कार्रवाई किए जाने की बात मानी जा रही है।

जानकारी के मुताबिक मनदीप कौर की शादी करीब 7 साल पहले हुई थी। उसको एक बेटी भी है। मनदीप का अपने पति के साथ किसी बात को लेकर तलाक हो गया था, जिसके बाद उसकी बेटी अपने दादके परिवार में ही रह रही है।

मनदीप कौर अपने मायके में रहती थी और पिंडी गली में एक दुकान पर काम करती थी। मंगलवार सुबह रोजाना की तरह मनदीप और उसके मां-बाप काम पर चले गए। कुछ देर बाद मनदीप ने अपनी मां को फोन कर घर बुलाया। पिता घर लौटे तो मनदीप खुदकुशी कर चुकी थी।

Suicide के लिए प्रेमी को जिम्मेदार ठहराया

मनदीप के शव के पास से मिले सुसाइड नोट पर उसने अपने प्रेमी की हरकतें लिखी हुई थीं। उसने अपनी मौत का जिम्मेदार जीवन नाम के एक युवक को बताया जो कि उसको बीते कई सालों से शादी करवाने का लारा लगा हुआ था। मनदीप कौर ने सुसाइड नोट पर लिखा कि उसको बीते रविवार को पता चला कि जीवन की बीते कुछ साल से एक अन्य लड़की के साथ दोस्ती थी, जिसके साथ भी वह शादी करवाने का वादा किए हुए था। इस घटना का पता चलने पर वह बुरी तरह से टूट गई और सोमवार पूरा दिन परेशान रहने के बाद मंगलवार सुबह खुदकुशी कर ली। उसने खुदकुशी करने से पहले उन लोगों को भी रुपए लौटाने की बात की, जिनको उसने पैसे देने थे।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Punjab

दिनेश चड्ढा ने BJP सरकार पर कसे तीखी तंज, कहा “पंजाब में मंडी व्यवस्था को खत्म करने की साजिश कर रही है”

Published

on

आप ने पंजाब के ग्रामीण विकास फंड (आरडीएफ) को रोकने को लेकर केंद्र की BJP सरकार की तीखी तंज कसे है। आप ने कहा कि BJP सरकार अब अप्रत्यक्ष रूप से पंजाब में मंडी व्यवस्था को खत्म करने की साजिश कर रही है। इसलिए वह RDF के लंबित करीब 7,000 करोड़ रुपये जारी नहीं कर रही है।

आज यानी मंगलवार को चंडीगढ़ स्थित पार्टी कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस में आप विधायक दिनेश चड्ढा ने कहा कि पंजाब के ग्रामीण इलाकों में सड़कों को सही नहीं कर रहे है क्योंकि आरडीएफ का पैसा ही ग्रामीण इलाकों में सड़कों की मरम्मत और पंजाब में मंडियों के बेहतर करने के लिए इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने आगे कहा की केंद्र सरकार ग्रामीण विकास की धनराशि के 7,000 करोड़ रुपये रोक कर रखा है और वह ऐसा साजिश के तहत कर रही है।

आप नेता ने बताया कि इससे पहले BJP ने पंजाब में सरकारी मंडी व्यवस्था को खत्म करने के लिए तीन काले कानून लागू करने की कोशिश की थी। उन कानूनों का पूरे भारत में विरोध हुआ और पंजाब के किसानों ने उस विरोध का नेतृत्व किया, फिर पीएम नरेंद्र मोदी को उन कानूनों को रद्द करने के लिए मजबूर होना पड़ा। लेकिन आज भी बीजेपी की मंशा वही है। वह पंजाब में सरकारी मंडी व्यवस्था को खत्म करना चाहती है। इसीलिए वे पंजाब का आरडीएफ और एमडीएफ जारी नहीं कर रहे हैं।

आप विधायक ने भाजपा पंजाब अध्यक्ष सुनील जाखड़ की चुप्पी पर भी सवाल उठाया और कहा कि वह किसान और पंजाब के बेटे होने का दावा करते हैं, लेकिन वह कभी भी पंजाब और उसके किसानों के पक्ष में आवाज नहीं उठाते हैं।

उन्होंने कहा कि अब अप्रत्यक्ष रूप से पंजाब की मंडियों को खत्म किया जा रहा है। अब समय आ गया है कि सुनील जाखड़ और रवनीत बिट्टू भाजपा की तानाशाही के खिलाफ आवाज उठाएं। ‘आप’ नेता ने पंजाब के सभी निर्वाचित लोकसभा सदस्यों से भी अपील की कि पंजाब पर बड़ा खतरा है, पंजाब की आधिकारिक मंडी व्यवस्था और मंडी बोर्ड को खत्म करने की साजिश रची जा रही है, इसलिए वे इस मुद्दे को उठा रहे हैं| इसे संसद में भी उठाया जाना चाहिए|

उन्होंने कहा कि यह सभी लोकसभा सदस्यों की जिम्मेदारी है कि वे केंद्र में जाकर पंजाब के अधिकारों के लिए लड़ें और केंद्र की तानाशाही सरकार के खिलाफ लड़ें| अब आपको तय करना है कि बीजेपी की सत्तावादी किसान विरोधी नीति के साथ खड़ा होना है या पंजाब के साथ खड़ा होना है।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Trending