पंजाब: जालंधर में अर्जुन पुरस्कार विजेता DSP की हत्या, गर्दन से निकली गोली - Early News 24

पंजाब: जालंधर में अर्जुन पुरस्कार विजेता DSP की हत्या, गर्दन से निकली गोली

पंजाब: जालंधर में अर्जुन पुरस्कार विजेता DSP की हत्या, गर्दन से निकली गोली

पंजाब के जालंधर जिले में एक डीएसपी की नहर के पास में लाश पड़ी मिली. डीएसपी का नाम दलबीर सिंह देओल था. दलबीर सिंह देओल भारोत्तोलन में एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता थे और बाद में उन्हें 2000 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. फिलहाल पुलिस मामले की जांच-पड़ताल में जुटी है.

पंजाब के जालंधर जिले में एक डीएसपी की नहर के पास में लाश पड़ी मिली. सुबह मार्निंग वॉक पर गए लोगों ने जब लाश को देखा तो पुलिस को सूचना दी. सूचना मिलने पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची. पुलिस ने जब शव की जांच की तो पता चला कि ये पंजाब आर्म्ड पुलिस (PAP) संगरूर में पोस्टेड डीएसपी दलबीर सिंह देओल की लाश है. मामला हाईप्रोफाइल होने के चलते आनन-फानन में पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. सूत्रों के मुताबिक, दलबीर सिंह देओल की गोली मारकर हत्या की गई थी. एक गोली उनकी गर्दन में फंसी थी. फिलहाल पुलिस जांच-पड़ताल में जुटी है.

डीएसपी दलबीर सिंह देओल भारोत्तोलन में एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता थे और बाद में उन्हें 2000 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. पुलिस को आशंका है कि किसी ने देओल की हत्या कर दी है, क्योंकि 16 दिसंबर को दलबीर सिंह ने इब्राहिम खां बस्ती के निवासियों के साथ झगड़े के बाद नशे की हालत में चार राउंड फायरिंग की थी. दलबीर सिंह देओल को कुछ देर के लिए हिरासत में लिया गया था, लेकिन अगले दिन रिहा कर दिया गया, क्योंकि दोनों पक्षों में समझौता हो गया था.

इस विवाद से भी जोड़कर जांच कर रही पुलिस

फिलहाल पुलिस डीएसपी दलबीर सिंह देओल के परिजनों की तहरीर पर जांच-पड़ताल में जुटी है. पुलिस ने बताया कि जालंधर के कपूरथला रोड गांव मंड के नजदीक इब्राहिम खां बस्ती है. इसी बस्ती में 16 दिसंबर देर रात डीएसपी दलबीर सिंह शराब के नशे में धुत होकर गोलियां चलाई थीं. लोगों ने इसका विरोध किया था, लेकिन दलबीर सिंह नशे में धुत होकर धमकियां दे रहे थे. इस पर गांव वालों ने डीएसपी को बुरी तरह से पीट दिया था.

ADCP बलविंदर सिंह रंधावा ने दी जानकारी

डीएसपी की पिटाई की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दलबीर सिंह को हिरासत में ले लिया. हालांकि दूसरे दिन गांव वालों से सुलह-समझौता होने के कारण उन्हें रिहा कर दिया गया. दलबीर सिंह की पिटाई का वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था. मामले की जानकारी देते हुए ADCP बलविंदर सिंह रंधावा ने बताया कि नहर किनारे एक लाश मिली थी. जब जांच की तो पता चला कि यह लाश एक डीएसपी की है, जो कि संगरूर में PAP में पोस्टेड थे. हर एंगल से जांच-पड़ताल की जा रही है. सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले जा रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *