पुलिस ने एक गिरोह के 5 सदस्यों को किया गिरफ्तार, हैरानीजनक खुलासे - Early News 24

पुलिस ने एक गिरोह के 5 सदस्यों को किया गिरफ्तार, हैरानीजनक खुलासे

पुलिस ने एक गिरोह के 5 सदस्यों को किया गिरफ्तार, हैरानीजनक खुलासे

पटियाला : पटियाला पुलिस ने असमाजिक तत्वों पर विरुद्ध चलाई मुहिम के तहत एक गिरोह के 5 सदस्यों को काबू करने में बड़ी सफलता हासिल की है। इस संबंधी वरुण शर्मा, आईपीएस वरिष्ठ कप्तान पुलिस पटियाला ने एक प्रेस नोट जारी किया है। पुलिस पार्टी द्वारा लूटपाट करने वाले आरोपियों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया गया था जिसके तहत गत दिन 24 नवंबर को पटियाला पुलिस ने लूटपाट करने वाले गिरोह के 5 सदस्यों को हथियारों सहित काबू किया है। 

गिरफ्तार किए आरोपियों की पहचान गुरदीप सिंह दीपी पुत्र राम चंद, बरिंदर सिंह पुत्र हरमीत सिंह, गुरदीप सिंह दीपा पुत्र कृष्ण सिंह, सरबजीत कुमार सरबू पुत्र राम मूर्ति और रविंदर सिंह मोनू पुत्र धर्मपाल के रूप में हुई है। इनके पास से 3 पिस्टल 32 बोर, 5 मैगजीन, 14 रौंद और एक चाकू और घटना में प्रयुक्त 2 वाहन एक बिना नंबरी व एक स्पलैंडर (PB-39-9669) बरामद करने में सफलता मिली है। इनकी गिरफ्तारी के साथ ही राजपुरा में हुए अंधे हत्याकांड का भी पता चल गया और 12 अन्य लूट की वारदातों का भी पता चल गया। इसके अलावा वे राजपुरा के एक अन्य इलाके में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने जा रहे थे।

पटियाला पुलिस को लुटेरों के गिरोह के बारे में गुप्त सूचना मिली थी। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा नंबर 102 दिनांक 22.11.2023 ए/डी 399,402 हिं:द: 25 आर्म्स एक्ट थाना सदर राजपुरा में दर्ज किया गया था। जांच के दौरान उक्त आरोपियों को मेन हाईवे सर्विस रोड टी-प्वाइंट उसकी जट्टां से गिरफ्तार किया गया है। एसएसपी पटियाला ने एक अहम खुलासा करते हुए बताया कि गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि राजपुरा के डॉक्टर दिनेश कुमार गोस्वामी उर्फ ​​मोनू (उम्र 4 साल) निवासी दुर्गा कॉलोनी राजपुरा जिसकी गुरु अंगद देव कॉलोनी जंडोली रोड में हत्या भी इसी गिरोह ने की थी। 12 अगस्त 2023 को डॉ. दिनेश कुमार गोस्वामी अपनी दुकान बंद करने जा रहे थे, तभी अज्ञात व्यक्तियों द्वारा उनकी हत्या कर मौके से भाग गए। इस मामले को थाना सिटी राजपुरा जिला पटियाला दर्ज किया गया। यह हत्या इस गैंग के 3 सदस्यों गुरदीप सिंह उर्फ ​​दीपी, बरिंदर सिंह और गुरदीप सिंह उर्फ ​​दीपा उक्त ने की थी।

इसके अलावा दिनांक 11 जून 2023 को आरोपियों ने संभू से घनौर के पास आईबी ग्रुप फीड फैक्ट्री संधारसी के पास आसम किराना स्टोर पर फायरिंग कर लूटपाट की थी। इस संबंध में मुकदमा संख्या 53 दिनांक 11.06.2023 ए/ धारा 379 बी आईपीसी, 25 आर्म्स एक्ट थाना घनौर दर्ज है, जिसकी निशानदेही गुरदीप सिंह उर्फ ​​दीपी, बरिंदर सिंह तथा गुरदीप सिंह उर्फ ​​दीपा द्वारा की गई है। आरोपियों ने पूछताछ में यह भी खुलासा हुआ है कि पिछले 4-5 महीनों के दौरान राजपुरा से अंबाला रोड मुख्य हाईवे रोड और संभू से घनौर रोड पर रात के समय मोटरसाइकिल पर राहगीरों से पिस्तौल की नोक पर पैसे छीनने की वारदातों को अंजाम देते थे। इनके द्वारा करीब 10 स्नैचिंग की वारदातों को अंजाम दिया गया है, जिसकी गहनता से जांच की जा रही है।

गिरोह के बारे में जानकारी देते हुए एसएसपी पटियाला ने बताया कि उक्त गुरदीप सिंह उर्फ ​​दीपी, बरिंदर सिंह और गुरदीप सिंह उर्फ ​​दीपा  डॉ. दिनेश गोस्वामी की हत्या और किराना स्टोर में हुई वारदात के मुख्य आरोपियों में शामिल थे। यह हत्या फरार चल रहे आरोपी गुरप्रीत सिंह उर्फ ​​गोल्डी ढिल्लो पुत्र सुखजिंदर सिंह निवासी दीप सिंह नगर, राजपुरा के इशारे पर की गई है। इसके अलावा आरोपियों ने डॉ. दिनेश गोस्वामी की हत्या के समय काउंटर की दराज में पड़े पैसे लूटने का भी खुलासा किया है। उक्त गिरोह के सदस्य अब राजपुरा के आसपास किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की तैयारी में थे। पकड़े गए अन्य आरोपी गांव बथनीया खुर्द के गुरविंदर सिंह उर्फ ​​सोनू और सरबजीत कुमार उर्फ ​​सरब निवासी भी इनके साथ लूट की अन्य घटनाओं में शामिल रहे हैं। उनके पास से धारदार/घातक हथियार भी बरामद किए गए हैं। इस गिरोह के सदस्य रात के समय राजपुरा अंबाला रोड और शंभू घनौर रोड पर लूट और स्नैचिंग की वारदातों को अंजाम दे रहे थे। गिरफ्तार आरोपियों से और गहन पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *