'सफलता भावुक कर देने वाली...', 41 मजदूरों के सुरक्षित बाहर निकलने पर बोले पीएम मोदी - Early News 24

‘सफलता भावुक कर देने वाली…’, 41 मजदूरों के सुरक्षित बाहर निकलने पर बोले पीएम मोदी

'सफलता भावुक कर देने वाली...', 41 मजदूरों के सुरक्षित बाहर निकलने पर बोले पीएम मोदी

नेशनल डेस्क: उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में सिलक्यारा सुरंग का एक हिस्सा ढहने के कारण अंदर फंसे 41 मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। 17वें दिन श्रमिकों को बाहर निकलता देख उनके परिवार वालों ने राहत की सांस ली। सुरंग से मजदूरों के बाहर निकलने की खबर मिलने के बाद पीएम मोदी ने खुशी जताई है। पीएम मोदी ने श्रमिकों के साहस और धैर्य की सराहना की है। 

‘सफलता भावुक कर देने वाली’
पीएम मोदी ने एक्स पर पोस्ट करते हुए लिखा, ”उत्तरकाशी में हमारे श्रमिक भाइयों के रेस्क्यू ऑपरेशन की सफलता हर किसी को भावुक कर देने वाली है। टनल में जो साथी फंसे हुए थे, उनसे मैं कहना चाहता हूं कि आपका साहस और धैर्य हर किसी को प्रेरित कर रहा है। मैं आप सभी की कुशलता और उत्तम स्वास्थ्य की कामना करता हूं। यह अत्यंत संतोष की बात है कि लंबे इंतजार के बाद अब हमारे ये साथी अपने प्रियजनों से मिलेंगे।”
 

उत्तरकाशी में हमारे श्रमिक भाइयों के रेस्क्यू ऑपरेशन की सफलता हर किसी को भावुक कर देने वाली है।

टनल में जो साथी फंसे हुए थे, उनसे मैं कहना चाहता हूं कि आपका साहस और धैर्य हर किसी को प्रेरित कर रहा है। मैं आप सभी की कुशलता और उत्तम स्वास्थ्य की कामना करता हूं।

यह अत्यंत… — Narendra Modi (@narendramodi) November 28, 2023

‘अभियान से जुड़े सभी लोगों को सलाम’
पीएम मोदी ने कहा, ”इन सभी के परिजनों ने भी इस चुनौतीपूर्ण समय में जिस संयम और साहस का परिचय दिया है, उसकी जितनी भी सराहना की जाए वो कम है। मैं इस बचाव अभियान से जुड़े सभी लोगों के जज्बे को भी सलाम करता हूं। उनकी बहादुरी और संकल्प-शक्ति ने हमारे श्रमिक भाइयों को नया जीवन दिया है। इस मिशन में शामिल हर किसी ने मानवता और टीम वर्क की एक अद्भुत मिसाल कायम की है।”

सीएम धामी ने भी की मुलाकात 
17वें दिन श्रमिकों को बाहर निकलता देख उनके परिवार वालों ने राहत की सांस ली। सीएम पुष्कर सिंह धामी बाहर निकाले गए श्रमिको से मुलाकात कर रहे हैं। केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल (से.नि) वीके सिंह भी वहीं मौजूद हैं। धामी ने श्रमिकों और रेस्क्यू अभियान में जुटे हुए कर्मियों के मनोबल और साहस की जमकर सराहना की। टनल से बाहर निकाले गए श्रमिकों की प्रारंभिक स्वास्थ्य प्रशिक्षण टनल में बने अस्थाई मेडीकल कैंप में की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *