Connect with us

Haryana

अपने बच्चों के साथ मिलकर माँ ने निगला Poison, मोहले में मचा कोहराम !

Published

on

Rewari: हरियाणा में आत्महत्या के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। ताजा मामला रेवाड़ी शहर से आया है, जहां एक महिला और उसके बेटे-बेटी ने जहरीला पदार्थ खा लिया. जिससे तीनों की मौत हो गई. महिला और उसकी बेटी की मौत रेवाडी में और बेटे की मौत गुरुग्राम के एक निजी अस्पताल में हुई. हालांकि, जहरीला पदार्थ खाने का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका है। आपको बता दें कि महिला के पति ने करीब 3 महीने पहले फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी, जिसके बाद इन तीनों ने अपनी जान दे दी|

गौरतलब है कि सोमवार शाम को रेवाडी शहर के नारनौल रोड स्थित राव तुलाराम निवासी अनिल कुमारी ने अपने 12 वर्षीय बेटे ऋषभ और 18 वर्षीय बेटी स्वीटी के साथ घर में ही संदिग्ध परिस्थितियों में जहरीला पदार्थ खा लिया। जहरीला पदार्थ खाने से तीनों की हालत बिगड़ गई। उन्हें उल्टी करते देख आसपास के लोगों ने परिवार के अन्य सदस्यों को जानकारी दी। अफरा-तफरी में परिजनों ने तीनों को शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से तीनों को तत्काल रेफर कर दिया गया |

परिजन इन तीनों को शहर के दूसरे अस्पताल में ले गए, जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद अनिल कुमारी और उनकी बेटी स्वीटी को मृत घोषित कर दिया। बेटे की हालत गंभीर होने के कारण गुरुग्राम रेफर कर दिया गया। देर रात बेटे की भी गुरुग्राम के एक निजी अस्पताल में मौत हो गई। वहीं, पुलिस ने मां-बेटी के शवों को कब्जे में लेकर सिविल अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया है। मंगलवार को दोनों के शवों का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है|

अनिल कुमारी के पड़ोस में रहने वाले लोगों के मुताबिक घर में कुल 4 लोग रहते थे. सोमवार की शाम अनिल कुमारी की सास कुछ सामान खरीदने बाजार गयी थी. बाद में अनिल कुमारी ने अपनी बेटी स्वीटी और बेटे ऋषभ के साथ जहर निगल लिया। जब वृद्धा घर पहुंची तो यह देखकर हैरान रह गई कि तीनों को उल्टियां हो रही थीं। इसके बाद आसपास के लोगों ने तुरंत तीनों को अस्पताल में भर्ती कराया और पुलिस को सूचना दी |

परिजनों के मुताबिक अनिल कुमारी के पति अमित ने 6 जनवरी को घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. मर्चेंट नेवी से रिटायर होने के बाद अमित गुरुग्राम में नौकरी करते थे. अमित की मौत के बाद पूरा परिवार बर्बाद हो गया। हालांकि अभी तक अमित की आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है. इस बीच उनकी पत्नी और दो बच्चों की मौत से परिवार सदमे में है. अनिल कुमारी और उसके बच्चों ने जहर क्यों निगला इसका कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका है।

author avatar
Editor Two

Haryana

Yamuna Nagar :पेट में दर्द होने पर मां 14 वर्ष की बेटी को ले गई थी अस्पताल, बच्ची को जन्म दिया

Published

on

Yamuna Nagar की एक कॉलोनी से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है | जहां नौवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा ने सिविल अस्पताल में बच्ची को जन्म दिया है। आरोप है कि पुराना हमीदा निवासी मुद्रीश ने छात्रा से दोस्ती कर उसके साथ दुष्कर्म किया। रविवार को जब छात्रा के पेट में दर्द हुआ तो उसकी मां उसे सिविल अस्पताल लेकर पहुंची। जहां उसने बच्ची को जन्म दिया।

पुलिस ने आरोपी मुद्रीश पर केस दर्ज कर लिया है। पीड़िता की मां ने पुलिस को बताया कि 2020 में उसके पिता की हार्ट अटैक से मौत हो गई थी। वह घरेलू कार्य कर बच्चों का पालन पोषण कर रही है। उसकी 14 वर्षीय बेटी एक स्कूल में 9वीं कक्षा में पढ़ती है। रविवार को बेटी के पेट में दर्द हुआ।

उसे लगा कि उसके पेट में रसोली है। वह उसे लेकर सिविल अस्पताल में आ गई। जहां अल्ट्रासाउंड करने पर डॉक्टरों ने बताया कि उसकी बेटी गर्भवती है व आज ही उसका प्रसव होना है। बेटी ने बच्ची को जन्म दिया। जब मां ने बेटी से इस बारे पूछा तो उसने बताया कि पुराना हमीदा निवासी मुद्रीश ने उससे दोस्ती की थी।

मां के काम पर जाने के बाद आरोपी घर पर आता था। उससे संबंध बनाता था, जिससे वह गर्भवती हुई है। मां ने आरोप लगाया कि मुद्रीश ने नाबालिग को बहला फुसला कर उससे जबरदस्ती संबंध बनाए। मां की शिकायत पर पुलिस ने मामले की जांच के बाद आरोपी मुद्रीश पर पॉक्सो एक्ट में तहत केस दर्ज किया है। दुष्कर्म पीड़िता डॉक्टरों की निगरानी में है। मामले में जांच जारी है।

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Haryana

दो युवकों की लड़ाई को छुडाने गए Haryana के युवक की चाकू मार की हत्या

Published

on

ऑस्ट्रेलिया में Haryana के करनाल से एक युवक की हत्या का मामला सामने आया है | जहां दो युवकों के बीच के झगडे को सुलझाने गए Haryana के रहने वाले युवकचाकू मार कर हत्या करदी गई | हालांकि स्थानीय पुलिस ने दो आरोपी भाइयों को गिरफ्तार कर लिया है| आरोपी भी Haryana के करनाल के रहने वाले हैं|

दरअसल, करनाल के गगसीना गांव का रहने वाला नवजीत अपने सपनों को पूरा करने के लिए 2022 में पढ़ाई के लिए ऑस्ट्रेलिया गया था| वहां सब कुछ ठीक चल रहा था| 6 मई को ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में दो युवकों के बीच हो रहे झगड़े को रोकने गए नवजीत की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी| इलाज के दौरान नवजीत की मौत हो गई| नवजीत अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था और उसकी एक बड़ी बहन है। नवजीत एम.टेक की पढ़ाई के लिए ऑस्ट्रेलिया गया था और उनके पिता एक किसान हैं। पिता ने जमीन बेचकर बेटे को पढ़ाई के लिए भेजा।

इस पूरी घटना से नवजीत (22) का कोई लेना-देना नहीं है| वह कमरे के किराये को लेकर दो आरोपियों के बीच हो रहे झगड़े में बीच-बचाव करने गया था| क्योंकि दोनों आरोपी करनाल के बसताड़ा गांव के रहने वाले थे| लेकिन उन आरोपियों ने उसे ही चाकू मार दिया गया| वह पिछले साल नवंबर 2022 में एम.टेक की पढ़ाई के लिए स्टडी वीजा पर ऑस्ट्रेलिया गया था। नवजीत पढ़ाई में बहुत होशियार थी| फिलहाल उनके घर में मातम का माहौल है और परिवार के लोग शव का इंतजार कर रहे हैं |

जानकारी के मुताबिक, करनाल के रहने वाले अभिजीत और रॉबिन को न्यू साउथ वेल्स के गॉलबर्न से गिरफ्तार किया गया है| विक्टोरिया पुलिस ने आधिकारिक जानकारी देते हुए बताया कि दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर लिया गया है | फिलहाल एक इकलौता बेटे के मरने पर घर वाले बेहद ही दुखी है और उनका रो रो कर भूरा हाल है |

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Haryana

आधी रात को Haryana के गुरुद्वारा साहिब में लगी आग, मौके पर मच गई अफरा-तफरी

Published

on

fire in haryana gurudwara

Haryana के सोनीपत जिले के गोहाना कस्बे के मुगलपुरा में उस वक्त हफर तफरी मच गयी जब वहां स्थित गुरुद्वारा साहिब में देर रात आग लग गई| आग लगने के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई| जिसके बाद फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई। बाद में बड़ी मुश्किल से आग पर काबू पाया गया| लेकिन तब तक काफी नुकसान हो चुका था|


जानकारी के मुताबिक, यह घटना बुधवार रात 1 बजे की है| गुरुद्वारा गुरु कलगीधर साहिब गोहाना शहर के मुगलपुरा में है। माना जा रहा है कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी है| बतादें कि पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति ने गुरुद्वारा साहिब से धुआं निकलते देखा तो चिल्लाकर आसपास के लोगों को जगाया। हालांकि, जब तक लोग पहुंचे, तब तक गुरुद्वारा पूरी तरह आग की चपेट में आ चुका था।

लोगों ने अपनी जान की परवाह किए बगैर वहां रखे गुरु साहिब के दोनों स्वरूपों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। धर्मस्थल में आग लगने की सूचना फायर ब्रिगेड को भी दी गई। फायर ब्रिगेड ने पहुंचकर आग पर काबू पाया। गुरुद्वारा प्रबंधकों व कॉलोनी निवासियों ने बताया कि रात करीब एक बजे गुरुद्वारा साहिब में आग लग गई। इस आग कई चीज़े जल गई |

बतादें की आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट प्रतीत हो रहा है। इतनी भयानक आग के बावजूद गुरु साहिब के दोनों स्वरूप सुरक्षित हैं। इन्हें पास ही गुरु प्यारे के घर में रखा गया है। बाकी पुलिस मामले की जाँच कर रही है |

author avatar
Editor Two
Continue Reading

Trending