Connect with us

Haryana

हिसार में सरपंच संवाद का किया गया आयोजन, सभी ने सुनील जागलान के बीबीपुर मॉडल को बताया प्रेरणास्रोत

Published

on

हिसार में सरपंच संवाद का किया गया आयोजन, सभी ने सुनील जागलान के बीबीपुर मॉडल को बताया प्रेरणास्रोत

हिसारः जिले में भारतीय गुणवत्ता परिषद द्वारा शुक्रवार को एक सरपंच संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें जिले भर के सरपंचों ने भाग लिया। भारतीय गुणवत्ता परिषद द्वारा गुणवत्ता वाले गांव बनाने के मक़सद से शुरू किया गया सरपंच संवाद का सकारात्मक असर जल्द हरियाणा में देखने को मिलेगा।

भारतीय गुणवत्ता परिषद के रिसोर्स पर्शन के तौर पर प्रोफ़ेसर सुनील जागलान पूर्व सरपंच बीबीपुर ज़िला जींद ने क्वॉलिटी विलेज के तौर पर बीबीपुर मॉडल ऑफ विमेन एम्पॉवरमेंट एंड विलेज डवलेपमेंट को सरपंचों को समझाया कि किस तरह वो भी अपने साधारण गांव को अन्तर्राष्ट्रीय ब्रांड गांव बना सकते हैं।

सुनील जागलान ने बताया कि भारतीय गुणवत्ता परिषद के चैयरमैन ज़क्षय शाह का यह सपना है कि हर गांव क्वालिटी विलेज में तबदील हो सके। इसके लिए हम पूरे देश भर में सरपंच संवाद कर रहे हैं। सरपंच संवाद ऐप के माध्यम से कोई भी सरपंच अपने गांव के विकास कार्य को देश भर में पहुंचा सकता है। सरपंच संवाद ऐप का लक्ष्य एक डिजिटल नेटवर्क बनाना और पूरे भारत में लगभग 2.5 लाख सरपंचों को जोड़ना है, जो नेटवर्किंग, ज्ञान के प्रसार एवं सहयोग के लिए एक विशेष और सुविधाजनक एकल मंच प्रदान करता है। एप्लिकेशन सरपंचों को सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करने, गांवों में किए गए विकास कार्यों को प्रदर्शित करने, सरपंचों की रुचियों एवं जरूरतों के अनुरूप सामग्री की खोज करने, सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त करने, प्रशिक्षण मॉड्यूल से सीखने और विशेषज्ञों से सुझाव लेने में सहायता प्रदान करेगा।

सरपंच संजय गांव कुवांरी ने कहा कि सरपंच संवाद हमारे गांवों के विकास व उनकी गुणवत्ता के लिए महत्वपूर्ण कदम है। हम पिछले लंबे समय से सुनील जागलान के बीबीपुर मॉडल के बारे में लगातार सुन रहे हैं। हमें भी अपने गांवों में बीबीपुर मॉडल के द्वारा क्वॉलिटी विलेज बनाना चाहिए।

 सरपंच सुनीता भ्याण गॉंव सरसौद ने कहा कि भारतीय गुणवत्ता परिषद का यह कदम सरपंच की कार्यशैली में बदलाव के लिए बहुत सकारात्मक कदम है। भारतीय गुणवत्ता परिषद की दीपाली ने कहा कि हरियाणा के गांवों के लिए सरपंच संवाद बहुत ज़्यादा ज़रूरी है, क्योंकि इससे उन्हें बेहतर कार्य करने की प्रेरणा मिलेगी।  हिसार जिले में क्वॉलिटी विलेज की तरफ़ पंचायत को लेकर जाने वाले सरपंचों को भारतीय गुणवत्ता परिषद की तरफ़ से सम्मानित भी किया गया।

भारतीय गुणवत्ता परिषद् (क्यूसीआई) की स्थापना भारत सरकार द्वारा फरवरी 1996 में एक कैबिनेट निर्णय के बाद, भारतीय उद्योग क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले तीन प्रमुख संघों (फिक्की, सीआईआई और एसोचैम) के सहयोग से राष्ट्रीय प्रत्यायन के लिए एक संरचना बनाने हेतु की गई। इसका गठन पीपीपी मॉडल पर एक स्वायत्त निकाय के रूप में किया गया है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Haryana

Gurugram Crematorium Tragedy: गुरुग्राम में श्मशान की दीवार गिरने से एक बच्ची समेत चार की मौत, हादसे के समय चाय की दुकान पर बैठे थे लोग

Published

on

Gurugram Crematorium Tragedy: गुरुग्राम में श्मशान की दीवार गिरने से एक बच्ची समेत चार की मौत, हादसे के समय चाय की दुकान पर बैठे थे लोग

Gurugram Crematorium Wall collapse: हरियाणा के गुरुग्राम में एक श्मशान कीदीवार गिरने से चार लोगों की मौत हो गई और दो घायल हो गए। मृतकों की पहचान वीर नगर निवासी 11 वर्षीय तान्या के अलावा अर्जुन नगर निवासी देवी दयाल उर्फ पप्पू उम्र 70 वर्ष; मनोज गाबा उम्र 54 वर्ष और कृष्ण कुमार उम्र 52 वर्ष के रूप में हुई। घायलों में से एक दुकानदार दिलीप कुमार है; दूसरा घायल एक बच्चे की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस के मुताबिक घटना शाम करीब 6.30 बजे मदनपुरी के अर्जुन नगर पुलिस चौकी के पास हुई। पीड़ित दिलीप की दुकान के पास कुर्सियों पर बैठे थे, जो घटनास्थल के पास थी, और जब दीवार गिरी तो दोनों बच्चे वहां से गुजर रहे थे।

CCTV फुटेज में दीवार पर लकड़ियों का ढेर गिरते दिख रहा है

CCTV फुटेज में दिख रहा है कि लकड़ियों का ढेर दीवार पर गिर रहा है और दीवार अचानक ढह गई। एक अधिकारी ने कहा कि अर्जुन नगर पुलिस चौकी से एक टीम मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों की मदद से 10 मिनट में सभी छह लोगों को मलबे से बाहर निकाला गया और अस्पताल ले जाया गया। किसी और के मलबे में फंसे होने की आशंका में एक घंटे तक तलाशी अभियान चलाया गया। पुलिस ने कहा कि मौके पर एक अर्थमूवर भी लाया गया।

प्रशासन का आरोप- खराब निर्माण की वजह से हुआ हादसा


पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने कहा, “अस्पताल में चार लोगों को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि दो का इलाज चल रहा है।” पुलिस ने बताया कि दीवार कंक्रीट से बनी थी। अधिकारी ने कहा, “खराब निर्माण के कारण यह घटना हुई और शमशान घाट के प्रबंधन के खिलाफ जल्द ही प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।”

लोगों की शिकायत है कि इस दीवार के कमजोर होने की शिकायत पहले भी की गई थी, लेकिन हालात में सुधार नहीं होने की वजह से यह हादसा हुआ। दीवार गिरना शुरू होने पर जब तक लोग वहां से हटते, उसके पहले ही वे उसकी चपेट में आ गये। अस्पताल में बुजुर्ग दीपा प्रधान और नाबालिग का इलाज चल रहा है।

Continue Reading

Haryana

फिर Haryana में हुआ बड़ा हादसा, बच्चों से भरा स्कूल ऑटो हुआ हादसे का शिकार

Published

on

फिर Haryana में हुआ बड़ा हादसा, बच्चों से भरा स्कूल ऑटो हुआ हादसे का शिकार

लगातार बच्चों के मरने की खबर समाने आ रही है | कभी स्कूल बस का Accident हो जाता तो कभी स्कूल के ऑटो का एक्सीडेंट हो जाता है | बतादें की Haryana के यमुनागर में स्कूली बच्चों से भरी ऑटो का Accident हो गया | मिली जानकारी के मुतबिक स्कूली बच्चों को लेकर जा रही ऑटो और बाइक भीषण टक्कर हो गई |

इस हादसे में एक बच्चे की मौत हो गई और बाकी के 6 बच्चों को मामूली चोटें आई है | हादसे के बाद सभी बच्चों को हस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहां एक छात्रा को मृत घोषित कर दिया |

इस हादसे में मारी छात्रा तीसरी कक्षा की थी और उसका नाम हिमानी था | बतादें की यमुनागर के कमानी चौक पर यह हादसा हुआ था | इस दौरान ऑटो चालक ने रेड लाइट जंप कर दी और फिर बाइक से ऑटो भिड़ गया और हादसे में छह बच्चे घायल हो गए थे, जिनमें से एक बच्ची की मौत हो गई है|

इससे पहले भी एक बहुत बड़ा हादसा हुआ था और ये हादसा Haryana के महेंद्रगढ़ में हुआ था | इस हादसे में 6 बच्चों की मौत हो गई थी | जानकरी के मुताबिक बस ड्राइवर शारब पीकर गाड़ी को चला रहा था | इतने बड़े हादसे के बाद भी स्कूल वाले और बस चालक सबक नहीं ले रहे |

इस हादसे के बच्चों के घर वालों का रो रो कर बुरा हाल है | फिलाहल पुलिस मामले की जाँच कर रही है और यह जानने की कोशिश कर रही हैं की ये हादसा आखिर कैसे हुआ |

Continue Reading

Haryana

Haryana के महेंद्रगढ़ में एक बस के पलटने से छह बच्चों की Death हो गई। चालक नशे में था।

Published

on

By

haryana-school-buss-accident-driver-was-drunk

ड्राइवर नशे की हालत में था और जब बस उनहानी गांव के पास पहुंची तो उसने अपना संतुलन खो दिया

वे जिस बस में सवार थे, वह गुरुवार सुबह यहां Haryana के कनीना अनुमंडल के Unhani गांव के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसमें कम से कम छह बच्चों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

भले ही ईद-उल-फितर था, फिर भी स्कूल खुला था।

bus overturns in Haryana's Mahendragarh1-fotor-20240411113854
Source: Feed

दुर्घटना तब हुई जब बस बच्चों को उनके घरों से स्कूल ले जाने के लिए कनीना शहर में स्कूल जा रही थी।

सूत्रों का कहना है कि चालक इतना नशे में था कि जब बस उनहानी गांव के करीब पहुंची तो वह गाड़ी चलाने के पीछे अपना संतुलन खो बैठा।

पास में मौजूद किसी व्यक्ति ने बच्चों के चिल्लाने की आवाज सुनी और बस में सवार घायल बच्चों की मदद के लिए दौड़ा। उन्हें पास के अस्पताल ले जाया गया, लेकिन जब वे वहां पहुंचे तो उनमें से कुछ की मौत हो चुकी थी। यह भी कहा जाता है कि उनमें से कुछ की हालत बहुत खराब है।

जिले से पुलिस और प्रबंधन कर्मचारी यह पता लगाने के लिए अस्पताल पहुंचे कि क्या हुआ। एक पुलिस सूत्र ने कहा कि बस चालक को पकड़ लिया गया है और यह पता लगाने के लिए पूछताछ की जा रही है कि क्या गलत हुआ।

Continue Reading
Advertisement

Trending