Connect with us

Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश अवैध खनन मामले में Akhilesh Yadav को CBI का नोटिस

Published

on

उत्तर प्रदेश अवैध खनन मामले में Akhilesh Yadav को CBI का नोटिस

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने बुधवार को उत्तर प्रदेश में पांच साल पुराने अवैध खनन मामले में समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव को तलब किया। यादव को 29 फरवरी को जांच एजेंसी के समक्ष गवाह के रूप में जांच में शामिल होने के लिए कहा गया है।

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, समन सीआरपीसी की धारा 160 के तहत जारी किया गया था – जो एक पुलिस अधिकारी को जांच में गवाहों को उनके सामने गवाही देने के लिए कहने की अनुमति देता है।

उत्तर प्रदेश में अवैध खनन का मामला ई-टेंडरिंग प्रक्रिया के कथित उल्लंघन में खनन पट्टे जारी करने से संबंधित है। यह आरोप लगाया गया था कि 2012 से 2016 के दौरान, लोक सेवकों ने अन्य आरोपियों के साथ आपराधिक साजिश में यूपी के हमीरपुर जिले में गौण खनिजों के अवैध खनन की अनुमति दी और खनन पर राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण (एनजीटी) द्वारा प्रतिबंध के बावजूद अवैध रूप से लाइसेंसों का नवीनीकरण किया। यह भी आरोप लगाया गया कि अधिकारियों ने खनिजों की चोरी की अनुमति दी, और पट्टा धारकों और ड्राइवरों से पैसे वसूले।

2016 में, अवैध खनन के मामले की जांच के लिए इलाहाबाद उच्च न्यायालय के निर्देश पर सीबीआई ने सात प्रारंभिक जांच दर्ज कीं। जांच एजेंसी ने 2019 में उत्तर प्रदेश और दिल्ली के कई इलाकों में भी तलाशी ली थी।
सीबीआई के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ई-टेंडरिंग प्रक्रिया का उल्लंघन करते हुए 17 फरवरी 2013 को एक ही दिन में 13 खनन परियोजनाओं को मंजूरी दी थी। कथित तौर पर, मुख्यमंत्री कार्यालय से अनुमोदन मिलने के बाद, हमीरपुर के जिला मजिस्ट्रेट बी चंद्रकला द्वारा मंजूरी दी गई थी।

Uttar Pradesh

Uttar Pradesh के सुनसान जगा पर रो था नवजात बच्चा, लोगे ने जाकर देखा तो उड़ गए होश

Published

on

Uttar Pradesh के सुनसान जगा पर रो था नवजात बच्चा, लोगे ने जाकर देखा तो उड़ गए होश

Uttar Pradesh में उस वक्त सनसनी फैल गई जब एक सुन सान जगा पर 7 महीने के बच्चे की रोने की आवाज़ सुनाई देती है जब वहां जाकर देखा तो सभी के होश ही उड़ गए | वहां पर एक महिला की लाश पड़ी हुई और वो लाश उस बच्चे की माँ की थी | दबतादें की एक महिला ने Train के आगे कूदकर अपनी जान दे दी और साथ ही में अपने 7 महीने के बच्चे को लेकर आई थी | लेकिन उस महिला ने बच्चे को पटरी के किनारे पर लिटा कर खुद Train के आगे छलांग लगा दी |

बतादें की जब Train वहां से गुजर गई तब बच्चे की रोने की आवाज़ सुनाई दी | बच्चे की रोने की आवाज़ सुनकर पास के ही खेतों में काम कर रहे ग्रामीण मौके पर पहुंचे। लेकिन महिला का शव देखकर उन सबके होश उड़ गए | जिसके बाद पुलिस को सूचित किया गया |

महिला की पहचान होने के बाद पुलिस ने शव को Postmartm के लिए भेज दिया गया है | साथ ही उसके परिजनों से पूछताछ कर रही है. वहीं, बच्चे को घरवालों को सौंप दिया गया है| ये घटना इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है |

जानकारी के मुताबिक, पारिवारिक कलह के चलते महिला ने ये कदम उठाया था | महिला अपने 7 महीने के बच्चे को लेकर रेलवे ट्रैक पर जाती है और अपने बच्चे को पटरियों से दूर ज़मीन पर लिटा कर खुद ट्रैन के आगे खुद जाती है | रोते बिलखते बच्चे की आवाज सुनकर दौड़े ग्रामीणों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी और बच्चे को जमीन से उठाकर गले से लगाया |

क्या है पूरा मामला ?


बतादें कि ये पूरा भगोनिपुर कोतवाली क्षेत्र का है, जहां Gopalpur गांव के राधेश्याम की 25 साल की पत्नी पूनम अपने बच्चे को गोद में लेकर घर से चली गई थी | डीघ गांव के पास रेलवे पटरी किनारे पहुंचकर उसने अपने बच्चे को पटरी से दूर लिटा दिया और खुद कानपुर से झांसी की ओर आ रही राप्ती सागर Express के आगे कूद गई| जिससे कटकर उसकी मौत हो गई |

कुछ देर बाद बच्चे की रोने की आवाज़ सुन आसपास खेतों में कटाई कर रहे ग्रामीणों और महिलाओं ने बच्चे को उठाया और पुलिस को सूचित किया | महिला का शव बुरी तरह से क्षत-विक्षत हो गया था जिसकी वजह से ग्रामीण उसे पहचान न पाए |

Police ने शव की पहचान करने के बाद उसको पोस्टमार्टम के लिए भेज कर परिवार वालो सौंप दिया है | पूछताछ में महिला के परिवार वालो ने बताया की उसका पति राधेश्याम के Alchol पीने से शख्त खिलाफ थी | और इसी वजह से उनके बीच अक्सर झगड़ा हुआ करता था | इसी वजह से शायद उसने यह कदम उठाया होगा |

Continue Reading

Uttar Pradesh

Uttar Pradesh में जलन में Lover ने 3 साल की मासूम बच्ची को उतारा मौत के घाट, काट डाले दोने पैर

Published

on

Uttar Pradesh में जलन में Lover ने 3 साल की मासूम बच्ची को उतारा मौत के घाट, काट डाले दोने पैर

Uttar Pradesh में उस वक्त सनसनी फैल गई जब love affairs के चलते 3 साल की मासूम बच्ची का गाला घोट कर हत्या कर दी गई | इतना ही उस कातिल ने बच्ची के पैर तक काट दिए | इस मामले में पुलिस ने एक महिला को गिरफ्तार किया है | पुलिस के अनुसार जिस महिला ने मासूम बच्ची की हत्या की वो उसके पिता की प्रेमिका है |

जानकरी के मुताबिक, Rampur की तहसील बिलासपुर के धावनी हसनपुर गांव निवासी दानिश अली की 3 साल की बेटी पड़ोस की दुकान में पर कुछ लेने के लिए गई थी | उसी के बाद वो लापता हो गई थी | परिवार वालों ने बच्ची काफी को काफी तलाश किया, लेकिन बच्ची का कुछ अता पता ना चला | जिसके बाद दानिश ने 7 अप्रैल को पुलिस रिपोर्ट फ़र्ज़ करवाई थी |

बतादें की 9 अप्रैल को बच्ची की लाश एक खाली पड़े Plot में मिला | सूचना मिले के बाद पुलिस तुरंत मौके पर पहुंच और घटनास्थल का जाएजा लिया | जाँच पड़ताल के बाद बच्ची के कातिल का पता चला | पुलिस ने खुलासा किया की मृतिक बच्ची को मारने वाला की और नहीं बल्कि बच्ची के पिता की प्रेमिका फरनाज ने किया है | प्रेमिका ने जलन की वजह से पहले तो मासूम बच्ची का गाला घोट दिया फिर उसकी दोनों टांगे काट दी | पुलिस आरोपी फरनाज को ग्रिफ्तार कर लिया है

घटना के बाद Police ने क्या बताया ?

Police ने बताया की 3 दिल पहले बिलासपुर से 3 वर्ष की बच्ची लापता हो गई थी | उसका शव एक खली प्लॉट में मिला था | इस मामले में केस दर्ज़ कर जांच शुरू की गई | कई CCTV कैमरे खंगाले गए | जिसके बाद पता चला की उसी गांव की एक 20 साल ने इस वरदात को अंजाम दिया |

पुलिस ने आगे कहा की इस महिला से बच्ची के पिता के जान पहचान थी | कुछ संबध थे, जिसकी जानकरी बच्ची की मां को हो गए थी | इस बात को लेकर उन दोनों कहा सुनी हो गई | इसी जलन और घृणा में प्रेमिका ने मासूम बच्ची की हत्या करदी |

बतादें जी बच्ची आरोपी महिला बच्ची को अपने घर की छत पर ले गई और गाला दबा दिया | इसके बाद बोरी में डालकर घर के पीछे वाले प्लॉट में फेंक दिया था | फिलाहल पुलिस ने आरोपी महिला को ग्रिफ्तार कर लिया है |

Continue Reading

Uttar Pradesh

Uttar Pradesh में हैंडपंप से अचानक से निकलने लगा Diesel, सभी देख हुए हैरान

Published

on

Uttar Pradesh में हैंडपंप से अचानक से निकलने लगा Diesel, सभी देख हुए हैरान

उत्तर प्रदेश के संभल से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है. यहां एक स्कूल के हैंडपंप से अचानक ‘डीजल जैसा पदार्थ’ निकलने लगा। यह देख बच्चों ने तुरंत शिक्षकों को बताया और हैंडपंप से पानी पीना बंद कर दिया। धीरे-धीरे यह खबर पूरे गांव में फैल गई। लोगों का कहना है कि हैंडपंप से निकलने वाले पानी में डीजल जैसी गंध आ रही है और वह थोड़ा मटमैला भी है|

संभल जिले के कुर्फतेहगढ़ थाने के गांव धर्मपुर रत्ता में एक सरकारी स्कूल है. इस स्कूल में लगे हैंडपंप से ‘डीजल’ निकल रहा है. ग्रामीणों के मुताबिक स्कूल में लगे हैंडपंप से पानी के अलावा डीजल भी निकल रहा है. पानी में डीजल की गंध के कारण बच्चों ने हैंडपंप का पानी पीना बंद कर दिया है। स्कूल के शिक्षक भी इस बात से हैरान हैं कि हैंडपंप के पानी से डीजल की गंध कैसे आने लगी|

ग्रामीण धर्मपाल ने बताया कि गांव के सरकारी स्कूल में हैंडपंप लगा हुआ है। बच्चों ने बताया कि इसके पानी से डीजल की गंध आ रही है. ये सुनकर हर कोई हैरान रह गया. इसके बाद जब मैं स्कूल पहुंचा तो हैंडपंप के पानी को देखा, उसका रंग बदल गया था और उसमें से डीजल जैसी गंध आ रही थी. डीजल का पानी बच्चों के स्वास्थ्य के लिए खतरा पैदा कर सकता है।

ग्रामीण यशवीर का कहना है कि इस अनोखी बात के बारे में पता चलने पर पहले तो उन्हें यकीन ही नहीं हुआ, लेकिन उस हैंडपंप के पानी से डीजल जैसी गंध आ रही है. इस पानी को पीने से बच्चों की सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है। गौरतलब है कि इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि उस हैंडपंप से निकलने वाले पानी में पेट्रोलियम या डीजल तत्व हैं या नहीं|

Continue Reading

Trending