आज से श्री मुक्तसर साहिब में माघी मेला शुरू, 5 लाख से ज्यादा श्रद्धालु कर सकते हैं माथा टेकने - Early News 24

आज से श्री मुक्तसर साहिब में माघी मेला शुरू, 5 लाख से ज्यादा श्रद्धालु कर सकते हैं माथा टेकने

आज से श्री मुक्तसर साहिब में माघी मेला शुरू, 5 लाख से ज्यादा श्रद्धालु कर सकते हैं माथा टेकने

श्री मुक्तसर साहिब में आज से माघी मेला शुरू होगा. माघी मेला उन 40 सिख योद्धाओं की याद में सदियों से आयोजित किया जाता रहा है, जो वर्ष 1705 में खिदराना की लड़ाई में मुगलों से लड़ते हुए मारे गए थे। इस युद्ध के बाद ही खिदराना का नाम मुक्तसर या मुक्ति का तालाब रखा गया। इस मेले में घोड़ा बाजार का विशेष महत्व है।यहां घोड़ों का प्रदर्शन किया जाता है।

दशम पातशाह जी द्वारा गुरु गोबिंद सिंह जी के चरण स्पर्श किए गए स्थान पर देश-विदेश से श्रद्धालु पहुंचेंगे और तालाब में स्नान करेंगे। इस मेले में आज 5 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद है. माघी मेले के दौरान सुरक्षा के मद्देनजर स्थानीय पुलिस ने शहर को 7 जोन में बांटा है और यहां 4500 सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं.

ग्लैंडर्स बीमारी के कारण पंजाब में घोड़ा बाजारों पर प्रतिबंध को लेकर हुए विवाद के बाद इस मेले में भी घोड़ों को लाने पर रोक लगा दी गई है.घोड़ा मेले को 16 जनवरी तक लगाने की इजाजत दी गई है. इन बाज़ारों में अधिकतर भारतीय नस्लें बेची और खरीदी जाती हैं।

इन बाजारों में राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और गुजरात से भी घोड़े यहां लाए जाते हैं। यहां 2 लाख से लेकर 20 लाख रुपए तक के महंगे घोड़े भी देखे जा सकते हैं। श्री मुक्तसर साहिब में 12 जनवरी से श्री अखंड पाठ साहिब का प्रकाशन शुरू हो गया है। 13 जनवरी को दीवान सजाए जाते हैं और 14 जनवरी को माघी के दिन श्री अखंड पाठ साहिब मनाया जाता है और 15 जनवरी को नगर कीर्तन के साथ पारंपरिक रूप से मेला समाप्त होता है।

यह भी पढ़ें: पंजाब में 36.65 लाख उपभोक्ताओं को मुफ्त बिजली, एक साल में जीरो बिल वालों की संख्या 2.89 लाख बढ़ी

मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को कोई परेशानी न हो इसके लिए शहर से बाहर जाने वाले ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया गया है. दूसरे शहरों से आने वाले वाहनों को शहर से गुजरने की बजाय डायवर्ट किया जाएगा। जिला प्रशासन की ओर से श्रद्धालुओं के लिए 6 अस्थायी बस स्टैंड बनाये गये हैं. इसके अलावा श्रद्धालुओं के लिए चक्क बीर सरकार के पास दशहरा ग्राउंड, हरियाली पेट्रोल पंप के सामने जगह, कोटकपुरा रोड के पास यादगारी गेट, मलोट रोड पर गौशाला के सामने, पॉटरी फैक्ट्री के पास, नई अनाज मंडी मुक्तसर, माई भागो कॉलेज और जिम्नेजियम हॉल सरकारी द कॉलेज गुरुहरसहाय रोड के नजदीक गांव लंबी ढाब में हुआ। पर पार्किंग की व्यवस्था की गई है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *