बैंक में होने लगी थी बड़ी लूट, मौके पर पहुंची पुलिस ने कसा शिकंजा - Early News 24

बैंक में होने लगी थी बड़ी लूट, मौके पर पहुंची पुलिस ने कसा शिकंजा

बैंक में होने लगी थी बड़ी लूट, मौके पर पहुंची पुलिस ने कसा शिकंजा

मालेरकोटला पुलिस ने सफलता हासिल करते हुए ठंडी सड़क पर स्थित यस बैंक की शाखा में लूट की कोशिश को नाकाम करते हुए 3 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए व्यक्तियों की पहचान आरिफ खान उर्फ आरिफ पुत्र लतीफ खान प्त 36 रोज एवेन्यू मालेरकोटला, सतीश कुमार पुत्र महेश कुमार गांव खेड़ीज लखनऊ और लक्ष्मण पुत्र रामपाल डब्बवाली के रहने वाला है।

सीनियर पुलिस कप्तान हरकमल प्रीत सिंह खख ने बताया कि पुलिस को यस बैंक के कैशियर रजत सिंगला से गंभीर सूचना मिली थी कि मुख्य आरोपी आरिफ खान के नेतृत्व में 3 व्यक्तियों की तरफ से तोड़-फोड़ की कोशिश की गई थी। सूचना की संवेदनशीलता को देखते हुए इंस्पैक्टर यादविन्दर सिंह और इंस्पैक्टर साहिब सिंह, एस.एच.ओ. सिटी-1 और 2 थाना सिटी-1 और 2 पी.सी.आर. व ई.आर.वी. टीमों के साथ मिल कर एक विशेष टीम को डी.एस.पी. मालेरकोटला गुरदेव सिंह की निगरानी में गहराई के साथ जांच करने के लिए तेजी के साथ गठित किया गया।

मिली खुफिया सूचना पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस टीमों ने बैंक पर तुरंत छापेमारी की। शुरूआती जांच में काटे हुए सी.सी.टी.वी. कैमरे की तारों और कैश रूम की सुरक्षा का उल्लंघन करने की एक ठोस कोशिश के सबूत सामने आए। फिर क्राइम सीन से अहम सबूत सावधानी के साथ इकट्ठे किए गए थे। सी.सी.टी.वी. फुटेज की जांच करने पर सामने आया कि आरिफ खान और उसके साथियों ने कैमरों के साथ छेड़छाड़ करके लूट की कोशिश की और रात को कैश रूम तक पहुंचने की कोशिश की थी।

आरिफ खान और उसके साथियों ने सिंगला से जबरदस्ती चाबियां लेने की कोशिश की, जब वह बैंक के समय के बाद अपने मोटरसाइकिल पर जा रहा था तो खान ने जानबूझ कर अपनी इनोवा का प्रयोग करते हुए सिंगला के मोटरसाइकिल के साथ टक्कर मारी और फिर उसे बैंक के कैश रूम तक पहुंचने के लिए चाबियां उससे पिस्तौल की नोक पर छीन ली थीं। पुलिस टीम ने एक 32 बोर का पिस्तौल, ओपो मोबाइल फोन और आपराधिक वारदात में शामिल गाड़ी (बोलैरो) बरामद की है। आरोपियों खिलाफ आई.पी.सी. की धाराओं 307, 458, 380, 427, 34 और हथियार एक्ट की धाराओं 25,27/54/ 59 के तहत केस दर्ज किया गया है।

बाद की पुलिस जांच ने आरिफ खान के आपराधिक इतिहास का पर्दाफाश किया, जिसमें पुराने नशीले पदार्थों के साथ संबंधित आरोप शामिल थे। पकड़े गए आरोपियों को अदालत में पेश करके ओर पूछताछ के लिए रिमांड हासिल किया जाएगा। एस.एस.पी. खख ने नागरिकों को बैंकों या वित्तीय संस्थाओं के आस-पास किसी भी शकी गतिविधि की तुरंत पुलिस एमरजैंसी हैल्पलाइन नंबर 112 पर सूचना देने के लिए कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *