विज का जनता दरबार: हत्या के एक मामले में गृह मंत्री ने एसपी रेवाड़ी के नेतृत्व में SIT को सौंपी जांच - Early News 24

विज का जनता दरबार: हत्या के एक मामले में गृह मंत्री ने एसपी रेवाड़ी के नेतृत्व में SIT को सौंपी जांच

विज का जनता दरबार: हत्या के एक मामले में गृह मंत्री ने एसपी रेवाड़ी के नेतृत्व में SIT को सौंपी जांच

चंडीगढ़ : हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज से न्याय की आस लेकर आज अंबाला में उनके आवास पर पश्चिमी अफ्रीकी देश बुर्किना फासो निवासी युवक पहुंचा जिसने बरवाला (पंचकूला) की फर्म पर 25 लाख रुपए धोखाधड़ी के आरोप लगाए। विज बुधवार आज अंबाला में प्रात: अपने आवास पर प्रदेश के कोने-कोने से आए लोगों की समस्याओं को सुन रहे थे। बुर्किना फासो निवासी युवक ने गृह मंत्री अनिल विज को अपनी शिकायत देते हुए बताया कि उसे अपने कारोबार के लिए प्रिंटिंग मशीन की जरूरत थी और इसके लिए उसने बरवाला की फर्म से बातचीत की थी।

फर्म ने उसे मशीन दिखाई और इसे एक्सपोर्ट करने का वायदा किया था। अफ्रीकी देश निवासी युवक का आरोप था कि फर्म संचालकों ने उससे अलग-अलग तारीखों में कुल 25 लाख रुपए बतौर एडवांस लिए, मगर इसके बाद न तो मशीन एक्सपोर्ट की गई और न ही उसे राशि वापस मिली। गृह मंत्री अनिल विज ने पंचकूला पुलिस कमिश्नर को मामले में जांच के निर्देश दिए।

इसी तरह, रेवाड़ी से आए परिवार ने अपने भाई की हत्या मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने के आरोप लगाए। उनका आरोप था कि हत्या मामले में केवल एक आरोपी को ही पकड़ा गया है, गृह मंत्री अनिल विज ने रेवाड़ी एसपी के नेतृत्व में एसआईटी गठित कर मामले की जांच के निर्देश दिए।

गृह मंत्री अनिल विज ने हत्या मामले में जांच के लिए एसआईटी गठित करने के निर्देश दिए

यमुनानगर से आई महिला ने गृह मंत्री अनिल विज को बताया कि उसके बेटे की हत्या की गई है जबकि सड़क हादसा दिखाकर मामले में कार्रवाई नहीं की जा रही है। उसने बताया कि कुछ युवक उसके बेटे को परेशान कर रहे थे और उसे हत्या का अंदेशा है। गृह मंत्री ने यमुनानगर एसपी को एसआईटी गठित कर मामले की जांच के निर्देश दिए।

कबूतरबाजी मामले में एसआईटी को गृह मंत्री अनिल विज ने सौंपी जांच

यमुनानगर से आई महिला ने अम्बाला के बराड़ा स्थित एक एजेंट पर कबूतरबाजी का आरोप लगाया। उसका आरोप था कि उसके बेटे को कनाडा भेजने के लिए एजेंट ने 25 लाख रुपए मांगे जोकि उन्होंने उसे दिए। इसके बाद उसके बेटे को कनाडा भेजने के बजाए कम्बोडिया भेज दिया गया और कहा गया कि वहां से उसका बेटा कनाडा जाएगा। इसके लिए एजेंट ने और राशि मांगी जोकि उन्होंने नहीं दी। इसके बाद उसका बेटा वापस आ गया। अब एजेंट बराड़ा में अपना आफिस व मोबाइल बंद कर फरार है। गृह मंत्री ने कबूतरबाजी के लिए गठित एसआईटी को मामले में जांच के निर्देश दिए।

इन मामलों में भी गृह मंत्री ने कार्रवाई के निर्देश दिए

गृह मंत्री अनिल विज के समक्ष अंबाला के बाड़ा गांव के पूर्व सरपंच में मीटर रीडिंग में गड़बड़ी होने, अम्बाला निवासी व्यक्ति ने रिश्तेदारों से जमीनी विवाद के चलते राजस्व रिकार्ड को ठीक करवाने, कुरुक्षेत्र निवासी व्यक्ति ने मारपीट मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी करने, कैथल निवासी युवक ने जमीनी कब्जा छुड़वाने बारे एवं अन्य शिकायतें आई जिस पर गृह मंत्री ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को कार्रवाई के निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *